पापा को पूजते हैं सनी देओल, बताया बॉबी के लिए क्यों आज भी होता है अफसोस

सनी देओल बॉलीवुड के ऐसे एक्टर हैं जो इंडस्ट्री में अपनी अलग पहचान रखते हैं. कहते हैं कि उन्होंने कभी अपने एथिक्स के साथ खिलवाड़ नहीं किया है 

पापा धर्मेंद्र के आज्ञाकारी, बॉबी के आदर्शवादी बड़े भाई, पत्नी-बच्चों के प्यारे, मतलब एक कम्प्लीट फैमिली मैन 

सनी देओल का रियल नेम अजय देओल है. उन्होंने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत अमृता सिंह के साथ 1983 में फिल्म बेताब से की थी 

सनी अपने पापा धर्मेंद्र को अपना सबकुछ मानते हैं. एक इंटरव्यू में सनी ने कहा था- पापा मेरे लिए सबसे बढ़कर हैं 

वो सबसे हैंडसम और सबसे अच्छा काम करने वालों में से हैं. ऐसा कोई काम नहीं जो वो ना कर पाएं 

वो किसी भी चीज से घबराते नहीं हैं. अगर उनके हिसाब से कोई बात गलत है तो है, सही है तो है 

मैं सिर्फ उन्हीं की फिल्में देखता हूं. मेरे लिए वो आज भी सबसे बेस्ट एक्टर, और इंसान हैं. वो बेस्ट हैं. 

बॉबी के लिए हम आज भी अफसोस करते हैं कि हमने उसे घर का बेबी बनाए रखा. सनी ने कहा- पहले पापा ने 

फिर मैंने हमेशा उसे घर का बच्चा बनाकर रखा. उसके करियर या लाइफ में जो भी उतार-चढ़ाव हुए, उसका जिम्मेदार मैं खुद को ही मानता हूं